Wednesday, 29 August 2012

सेक्स आपको लंबी उम्र भी दे सकता है


उम्र को बढ़ाने का यह है सबसे कामयाब तरीका

 हर रोमांटिक रिलेशन का एक अहम पड़ाव है सेक्स। वैसे , अगर अपने रिलेशन में आप इसकी अहमियत नहीं समझते हैं , तो इसका दूसरा ऐंगल देखें। दरअसल , सेक्स आपको लंबी उम्र भी दे सकता है। यानी बेडरूम में कुछ कैलरीज बर्न करके आप अपनी लाइफ को 10 साल तक बढ़ा सकते हैं। स्टडीज बताती हैं कि रेग्युलर सेक्स हॉर्मोन लेवल को इंप्रूव करता है , हॉर्ट हेल्थ व ब्रेन पावर को बढ़ाता है और इसी के साथ इम्यून सिस्टम को भी स्ट्रेंथ देता है। 

  सैटिस्फैक्शन लेवल (बढ़ेगी उम्र : 8 साल)
सेक्स के जरिए जब भी बात उम्र बढ़ाने की होती है , तो इसका मतलब सेक्स की क्वॉन्टिटी से ही नहीं , बल्कि क्वॉलिटी से भी होता है। एक स्टडी में बताया गया है कि सेक्स के दौरान अच्छा ऑर्गेज्म फील करना वेलियम की एक डोज लेने के बराबर है। बता दें कि वेलियम बॉडी से स्ट्रेस दूर करने वाली ड्रग है। यही नहीं , सेक्स आपकी बॉडी में इंफेक्शन से लड़ने वाले सेल्स भी 20 पर्सेंट तक बढ़ा देता है। 

  वैसे , कुछ स्टडीज प्रूव कर चुकी हैं कि खुशहाल शादीशुदा जिंदगी जीने वाले कपल्स सिंगल या खराब रिलेशन में जी रहे लोगों के मुकाबले ज्यादा जीते हैं। देखने में यह भी आया है कि रेग्युलर ऑर्गेज्म फील करने वाले पुरुषों में लंबी उम्र के चांसेज दोगुने हो जाते हैं , वहीं हफ्ते में दो बार ऑर्गेज्म फील करने वाली महिलाओं में दिल की बीमारियों के चांसेज 30 फीसदी तक कम होते हैं। यानी अच्छे इंटरकोर्स के जरिए आपको ऑर्गेज्म लेवल बूस्ट करना चाहिए।   

रोमांटिक मूमेंट्स (बढ़ेगी उम्र : 7 साल) 
http://xhamster.com/movies/1139344/indian_rakhi_in_kamasutra_kissing_hot.html
 पार्टनर को प्यार करना न सिर्फ अच्छे सेक्स में हेल्प करता है , बल्कि यह ' बॉन्डिंग हॉर्मोन ' ऑक्सिटॉसिन को ज्यादा अमाउंट में रिलीज करता है। गौरतलब है कि इस हॉर्मोन को लंबी उम्र से जोड़कर देखा जाता है। यानी अच्छे सेक्शुअल रिलेशन जीने वाले लोगों पर सीरियस डिजीज और डिप्रेशन का असर कम होता है। इसलिए सेक्स के बाद अपने पार्टनर से रोमांस जरूर करें। इससे आपका रिलेशन भी इंटिमेट होगा। सेंशुअल मसाज , प्यार भरे स्ट्रोक्स और इंटिमेट टच , आपके रिलेशन को हमेशा क्लोज और यंग बनाए रखेंगे। वैसे , स्टडीज यह भी बताती हैं कि फैमिलियर पार्टनर से सेक्स करने पर ही ऑक्सिटॉसिन सही अमाउंट में रिलीज होता है।

सेट करें मूड (बढ़ेगी उम्र : 10 साल) 
  सेक्स को आप तभी अच्छे से इंजॉय कर सकते हैं , जब आप मूड में हों। यही वजह है कि सेक्स के लिए ब्रेन केमिकल्स को जरूरी माना जाता है। अगर सेक्स का आपका मन नहीं कर रहा है , तो इसका मतलब है कि डोपामिन , एसिटाइकोलिन , जीएबीए और सिरोटॉनिन में से किसी ब्रेन केमिकल की अमाउंट कम है। इनको बैलेंस करने के लिए आप कुछ हर्ब्स और स्पाइसेज की हेल्प ले सकते हैं।डोपामिन को मूड और कॉन्फिडेंस बूस्ट करने वाला केमिकल माना जाता है। इसका लेवल बढ़ाने के लिए तुलसी , काली मिर्च , मिर्च , जीरा , लहसुन और हल्दी वगैरह ट्राई करें। जबकि एसिटाइकोलिन अलर्टनेस और फोकस लेवल के लिए होता है। इसे लगभग सभी मसालों , तुलसी , पुदीना , हरी पत्तेदार सब्जियां , अजवाइन वगैरह से बूस्ट किया जा सकता है।
 
जीएबीए एक नैचरल ऐंटि - डिप्रेसेंट है , जो अल्कोहल में होता है। इसका लेवल बढ़ाने के लिए एक या दो ग्लास रेड वाइन ली जा सकती है। वहीं सिरोटॉनिन मूड को रिलैक्स करके खुशी का अहसास देता है और इसके लिए केला और चॉकलेट ट्राई करें।

ईजी ट्रिक चाहते हैं , तो करी वाली हल्की सब्जियां और केसर वाले चावल ट्राई करें। यह आपका मूड फौरन सेट कर देगा।

वर्कआउट जैसा फायदा (बढ़ेगी उम्र : 10 साल) 
 
एक्सर्साइज बेशक आपको फिट रखती है। इससे ब्लड सर्कुलेशन बढ़ता है , मसल्स टोन होती हैं और इस तरह एजिंग प्रोसेस स्लो हो जाता है। ऐसे में , अच्छी न्यूज यह है कि सेक्स से आपको रेग्युलर वर्कआउट के सारे फायदे मिलते हैं और इनके लिए आपको ट्रेडमिल पर दौड़ना भी नहीं पड़ेगा।
एक्सपर्ट्स की मानें , तो एक्टिव सेक्स से आप 20 मिनट में तकरीबन 30 कैलरीज बर्न कर सकते हैं। इसका मतलब हुआ कि एक घंटे के सेक्स से आप एक ग्लास वाइन या फिर कुछ बिस्किट खाने से गेन की गई कैलरीज घटा सकते हैं। वैसे , रिपोर्ट्स बताती हैं कि जो मिडल-एज महिलाएं हफ्ते में एक बार सेक्स करती हैं , उनकी बॉडी में बोन्स को प्रोटेक्ट करने वाले एस्ट्रोजन का लेवल ज्यादा होता है। 
  वैसे , इन बेनेफिट्स को पाने के लिए आपको सेक्स को मिशन की बजाय फन बनाना होगा और नई पॉजिशंस ट्राई करनी होंगी। अगर आप ऐसा नहीं कर पा रहे हैं , तो हार्ट रेट बढ़ाने के लिए टॉप पॉजिशन ट्राई कर सकते हैं।

ज्यादा का फंडा (बढ़ेगी उम्र : 2 साल) 
  हफ्ते में एक बार सेक्स करने से आपकी बॉडी का हॉर्मोन लेवल , हार्ट और ब्रेन , सब बैलेंस में रहते हैं। वैसे , इसके और भी फायदे हैं। मसलन वीक में तीन या इससे ज्यादा बार सेक्स करने वाले मेल्स को हॉर्ट अटैक का रिस्क 50 पर्सेंट तक कम हो जाता है। यानी कि यह भी महज मिथ ही है कि सेक्स करने पर हॉर्ट अटैक हो सकता है।
 

वैसे , अगर आप एरोबिक्स ज्यादा नहीं कर पा रहे हैं , तो वैसा ही रिलैक्सेशन अच्छे सेक्स से पा सकते हैं। आपको बता दें कि रेग्युलर सेक्स से बॉडी में ' फील गुड ' एंडॉर्फिन्स रिलीज होते हैं , जिससे स्ट्रेस दूर होता है।



 

No comments:

Post a Comment